Pinterest

Explore these ideas and more!

15-16 जुलाई 2016, अपने गांव से पौधे एवं पानी नया रायपुर लेकर आए बीजापुर जनप्रतिनिधि। पौधे लगाने में सभी उम्र के लोगों ने भरपूर उत्साह दिखाया. महिलाओं ने भी पुरुषों की तुलना में डटकर मेहनत की एवं अपने-अपने पौधे लगाए। इस स्थान पर अलग-अलग प्रजातियों के पौधे नियमित लगते हैं। ये हमर छत्तीसगढ़ योजना की एक अनोखी विशेषता है जिसमें लाखों पौधे इन दो बरसों में नए रायपुर को और भी हरा भरा बना देंगे।

15-16 जुलाई 2016, अपने गांव से पौधे एवं पानी नया रायपुर लेकर आए बीजापुर जनप्रतिनिधि। पौधे लगाने में सभी उम्र के लोगों ने भरपूर उत्साह दिखाया. महिलाओं ने भी पुरुषों की तुलना में डटकर मेहनत की एवं अपने-अपने पौधे लगाए। इस स्थान पर अलग-अलग प्रजातियों के पौधे नियमित लगते हैं। ये हमर छत्तीसगढ़ योजना की एक अनोखी विशेषता है जिसमें लाखों पौधे इन दो बरसों में नए रायपुर को और भी हरा भरा बना देंगे।

15-16 जुलाई 2016, 'हमर छत्तीसगढ़' योजना के विभिन्न अध्ययन स्थलों में से एक, इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय, पंचायत जनप्रतिनिधियों के बीच एक विशेष लगाव एवं अपनापन लेकर आया है। भारत एक कृषि प्रधान देश है जिसकी रौनक लहलहाते खेतों से ही है। इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय के आधुनिक कृषि-यंत्र एवं उत्पाद, जनप्रतिनिधियों को ज्ञानवर्धक साबित हुए हैं। https://www.facebook.com/hamarcg2016/posts/989509454480574

15-16 जुलाई 2016, 'हमर छत्तीसगढ़' योजना के विभिन्न अध्ययन स्थलों में से एक, इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय, पंचायत जनप्रतिनिधियों के बीच एक विशेष लगाव एवं अपनापन लेकर आया है। भारत एक कृषि प्रधान देश है जिसकी रौनक लहलहाते खेतों से ही है। इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय के आधुनिक कृषि-यंत्र एवं उत्पाद, जनप्रतिनिधियों को ज्ञानवर्धक साबित हुए हैं। https://www.facebook.com/hamarcg2016/posts/989509454480574

दंतेवाड़ा के पंचायत जनप्रतिनिधियों में छत्तीसगढ़ विधानसभा देखने की होड़ लग गई। डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी प्रेक्षागृह में अधिकारियों ने उन्हें विधानसभा सत्र, बैठक, कार्य एवं कार्यपालिका के बारे में बताया।

दंतेवाड़ा के पंचायत जनप्रतिनिधियों में छत्तीसगढ़ विधानसभा देखने की होड़ लग गई। डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी प्रेक्षागृह में अधिकारियों ने उन्हें विधानसभा सत्र, बैठक, कार्य एवं कार्यपालिका के बारे में बताया।

15-16 जुलाई 2016, छत्तीसगढ़ विधानसभा में 'हमर छत्तीसगढ़' योजना के समन्वयक डॉ. सत्येन्द्र तिवारी एवं अवर सचिव श्री जी.एस. मूर्ति ने बीजापुर जिले के जनप्रतिनिधियों को विधानसभा की कार्यप्रणाली एवं सामान्य व्यवस्था बताई।  https://www.facebook.com/hamarcg2016/posts/989530697811783

15-16 जुलाई 2016, छत्तीसगढ़ विधानसभा में 'हमर छत्तीसगढ़' योजना के समन्वयक डॉ. सत्येन्द्र तिवारी एवं अवर सचिव श्री जी.एस. मूर्ति ने बीजापुर जिले के जनप्रतिनिधियों को विधानसभा की कार्यप्रणाली एवं सामान्य व्यवस्था बताई। https://www.facebook.com/hamarcg2016/posts/989530697811783

11-12 जुलाई 2016। मुंगेली जिले के पंचायत जनप्रतिनिधियों ने नया रायपुर स्थित पुरखौती मुक्तांगन का भ्रमण कर छत्तीसगढ़ संस्कृति को झलकाती कई कलाकृतियों को देखा एवं सराहा। इनमें मुख्य रूप से पंथी नृत्य की कलाकृति मौजूद है, जिसका प्रारूप कुछ दिन पहले होटल प्रबंधन संस्थान के सांस्कृतिक मंच में नृत्यकर्ताओं ने दिखाया था। इसके अलावा राउत नाचा, सुआ नृत्य, बाजा-बजगरी की कलाकृतियों ने जनप्रतिनिधियों को अपने आसपास बटोर कर कुछ देर रखा।

11-12 जुलाई 2016। मुंगेली जिले के पंचायत जनप्रतिनिधियों ने नया रायपुर स्थित पुरखौती मुक्तांगन का भ्रमण कर छत्तीसगढ़ संस्कृति को झलकाती कई कलाकृतियों को देखा एवं सराहा। इनमें मुख्य रूप से पंथी नृत्य की कलाकृति मौजूद है, जिसका प्रारूप कुछ दिन पहले होटल प्रबंधन संस्थान के सांस्कृतिक मंच में नृत्यकर्ताओं ने दिखाया था। इसके अलावा राउत नाचा, सुआ नृत्य, बाजा-बजगरी की कलाकृतियों ने जनप्रतिनिधियों को अपने आसपास बटोर कर कुछ देर रखा।

अपने गांव से लाए पानी और पौधों को नए रायपुर में दंतेवाड़ा जनप्रतिनिधियों ने प्यार और ममता के साथ अर्पित किया। इस स्थान पर अलग-अलग प्रजातियों के पौधे नियमित लगते हैं। ये हमर छत्तीसगढ़ योजना की एक अनोखी विशेषता है जिसमें लाखों पौधे इन दो सालों में नए रायपुर को और भी हर भरा बना देंगे।

अपने गांव से लाए पानी और पौधों को नए रायपुर में दंतेवाड़ा जनप्रतिनिधियों ने प्यार और ममता के साथ अर्पित किया। इस स्थान पर अलग-अलग प्रजातियों के पौधे नियमित लगते हैं। ये हमर छत्तीसगढ़ योजना की एक अनोखी विशेषता है जिसमें लाखों पौधे इन दो सालों में नए रायपुर को और भी हर भरा बना देंगे।

15-16 जुलाई 2016, नया रायपुर सेंट्रल पार्क स्थित इमर्सिव डोम थियेटर सभी जिलावासियों को मनोरंजक एवं आकर्षक लगा। तकनीकी प्रयोग से इस इमर्सिव डोम में किसी भी सामान्य सिनेमा हॉल की तुलना में कही ज्यादा रोमांचक एवं विस्मयकारी फिल्में दिखाई जाती हैं।

15-16 जुलाई 2016, नया रायपुर सेंट्रल पार्क स्थित इमर्सिव डोम थियेटर सभी जिलावासियों को मनोरंजक एवं आकर्षक लगा। तकनीकी प्रयोग से इस इमर्सिव डोम में किसी भी सामान्य सिनेमा हॉल की तुलना में कही ज्यादा रोमांचक एवं विस्मयकारी फिल्में दिखाई जाती हैं।

15-16 जुलाई 2016, 'हमर छत्तीसगढ़' योजना के विभिन्न अध्ययन स्थलों में से एक, इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय, पंचायत जनप्रतिनिधियों के बीच एक विशेष लगाव एवं अपनापन लेकर आया है। भारत एक कृषि प्रधान देश है जिसकी रौनक लहलहाते खेतों से ही है। इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय के आधुनिक कृषि-यंत्र एवं उत्पाद, जनप्रतिनिधियों को ज्ञानवर्धक साबित हुए हैं। https://www.facebook.com/hamarcg2016/posts/989467567818096

15-16 जुलाई 2016, 'हमर छत्तीसगढ़' योजना के विभिन्न अध्ययन स्थलों में से एक, इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय, पंचायत जनप्रतिनिधियों के बीच एक विशेष लगाव एवं अपनापन लेकर आया है। भारत एक कृषि प्रधान देश है जिसकी रौनक लहलहाते खेतों से ही है। इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय के आधुनिक कृषि-यंत्र एवं उत्पाद, जनप्रतिनिधियों को ज्ञानवर्धक साबित हुए हैं। https://www.facebook.com/hamarcg2016/posts/989467567818096

15-16 जुलाई 2016, युवा पीढ़ी के जनप्रतिनिधियों में 'हमर छत्तीसगढ़' योजना के लिए खूब उत्साह देखने मिलता है। साईंस सेंटर में बताई जाने वाली वैज्ञानिक प्रणालियां वैसे तो सभी उम्र के लिए मनोरंजक है लेकिन वैज्ञानिक प्रवृत्ति लिए सुकमा एवं अन्य जिलों के युवा, खूब आनंद लेते हैं। भविष्य में ये युवा छत्तीसगढ़ के नामी वैज्ञानिक बनेंगे।

15-16 जुलाई 2016, युवा पीढ़ी के जनप्रतिनिधियों में 'हमर छत्तीसगढ़' योजना के लिए खूब उत्साह देखने मिलता है। साईंस सेंटर में बताई जाने वाली वैज्ञानिक प्रणालियां वैसे तो सभी उम्र के लिए मनोरंजक है लेकिन वैज्ञानिक प्रवृत्ति लिए सुकमा एवं अन्य जिलों के युवा, खूब आनंद लेते हैं। भविष्य में ये युवा छत्तीसगढ़ के नामी वैज्ञानिक बनेंगे।

15-16 जुलाई 2016, 'हमर छत्तीसगढ़' योजना के विभिन्न अध्ययन स्थलों में से एक, इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय, पंचायत जनप्रतिनिधियों के बीच एक विशेष लगाव एवं अपनापन लेकर आया है। भारत एक कृषि प्रधान देश है जिसकी रौनक लहलहाते खेतों से ही है। इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय के आधुनिक कृषि-यंत्र एवं उत्पाद, जनप्रतिनिधियों को ज्ञानवर्धक साबित हुए हैं।  https://www.facebook.com/hamarcg2016/posts/989467567818096

15-16 जुलाई 2016, 'हमर छत्तीसगढ़' योजना के विभिन्न अध्ययन स्थलों में से एक, इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय, पंचायत जनप्रतिनिधियों के बीच एक विशेष लगाव एवं अपनापन लेकर आया है। भारत एक कृषि प्रधान देश है जिसकी रौनक लहलहाते खेतों से ही है। इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय के आधुनिक कृषि-यंत्र एवं उत्पाद, जनप्रतिनिधियों को ज्ञानवर्धक साबित हुए हैं। https://www.facebook.com/hamarcg2016/posts/989467567818096

15-16 जुलाई 2016, दंतेवाड़ा के पंचायत जनप्रतिनिधियों ने नया रायपुर स्थित पुरखौती मुक्तांगन का भ्रमण किया एवं नृत्यकर्ताओं की प्रस्तुति को जी भरके देखा।

15-16 जुलाई 2016, दंतेवाड़ा के पंचायत जनप्रतिनिधियों ने नया रायपुर स्थित पुरखौती मुक्तांगन का भ्रमण किया एवं नृत्यकर्ताओं की प्रस्तुति को जी भरके देखा।

15-16 जुलाई 2016, रायपुर से बहुत दूर स्तिथ सुकमा जिले से जनप्रतिनिधि, अपने गांव के पौधे एवं पानी नया रायपुर लेकर आए। कुछ बोतलों में, तो कुछ छोटी-छोटी तुमडिय़ों में थोड़ा-थोड़ा पानी लाये। पौधे लगाने में सभी उम्र के लोगों ने भरपूर उत्साह दिखाया. महिलाओं ने भी पुरुषों की तुलना में डटकर मेहनत की एवं अपने-अपने पौधे लगाए। अपने-अपने घरों का ख्याल रखने के साथ-साथ महिलाएं, बाहर भी अपनी ताकत एवं साहस का परिचय देती हैं।

15-16 जुलाई 2016, रायपुर से बहुत दूर स्तिथ सुकमा जिले से जनप्रतिनिधि, अपने गांव के पौधे एवं पानी नया रायपुर लेकर आए। कुछ बोतलों में, तो कुछ छोटी-छोटी तुमडिय़ों में थोड़ा-थोड़ा पानी लाये। पौधे लगाने में सभी उम्र के लोगों ने भरपूर उत्साह दिखाया. महिलाओं ने भी पुरुषों की तुलना में डटकर मेहनत की एवं अपने-अपने पौधे लगाए। अपने-अपने घरों का ख्याल रखने के साथ-साथ महिलाएं, बाहर भी अपनी ताकत एवं साहस का परिचय देती हैं।

15-16 जुलाई 2016, रायपुर से बहुत दूर स्तिथ सुकमा जिले से जनप्रतिनिधि, अपने गांव के पौधे एवं पानी नया रायपुर लेकर आए। कुछ बोतलों में, तो कुछ छोटी-छोटी तुमडिय़ों में थोड़ा-थोड़ा पानी लाये। पौधे लगाने में सभी उम्र के लोगों ने भरपूर उत्साह दिखाया. महिलाओं ने भी पुरुषों की तुलना में डटकर मेहनत की एवं अपने-अपने पौधे लगाए। अपने-अपने घरों का ख्याल रखने के साथ-साथ महिलाएं, बाहर भी अपनी ताकत एवं साहस का परिचय देती हैं।

15-16 जुलाई 2016, रायपुर से बहुत दूर स्तिथ सुकमा जिले से जनप्रतिनिधि, अपने गांव के पौधे एवं पानी नया रायपुर लेकर आए। कुछ बोतलों में, तो कुछ छोटी-छोटी तुमडिय़ों में थोड़ा-थोड़ा पानी लाये। पौधे लगाने में सभी उम्र के लोगों ने भरपूर उत्साह दिखाया. महिलाओं ने भी पुरुषों की तुलना में डटकर मेहनत की एवं अपने-अपने पौधे लगाए। अपने-अपने घरों का ख्याल रखने के साथ-साथ महिलाएं, बाहर भी अपनी ताकत एवं साहस का परिचय देती हैं।

15-16 जुलाई 2016, अपने गांव से पौधे एवं पानी नया रायपुर लेकर आए बीजापुर जनप्रतिनिधि। पौधे लगाने में सभी उम्र के लोगों ने भरपूर उत्साह दिखाया. महिलाओं ने भी पुरुषों की तुलना में डटकर मेहनत की एवं अपने-अपने पौधे लगाए। इस स्थान पर अलग-अलग प्रजातियों के पौधे नियमित लगते हैं। ये हमर छत्तीसगढ़ योजना की एक अनोखी विशेषता है जिसमें लाखों पौधे इन दो बरसों में नए रायपुर को और भी हरा भरा बना देंगे।

15-16 जुलाई 2016, अपने गांव से पौधे एवं पानी नया रायपुर लेकर आए बीजापुर जनप्रतिनिधि। पौधे लगाने में सभी उम्र के लोगों ने भरपूर उत्साह दिखाया. महिलाओं ने भी पुरुषों की तुलना में डटकर मेहनत की एवं अपने-अपने पौधे लगाए। इस स्थान पर अलग-अलग प्रजातियों के पौधे नियमित लगते हैं। ये हमर छत्तीसगढ़ योजना की एक अनोखी विशेषता है जिसमें लाखों पौधे इन दो बरसों में नए रायपुर को और भी हरा भरा बना देंगे।

दंतेवाड़ा, सुकमा एवं बीजापुर जिलों के जनप्रतिनिधियों के बीच 'हमर छत्तीसगढ़' योजना की सांस्कृतिक संध्या में लोकसभा सांसद श्री दिनेश कश्यप मौजूद थे. कार्यक्रम के दौरान योजना की प्रतिक्रियाएं ली एवं मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह के अभिनव पहल की प्रशंसा की. उन्होंने इसे ग्रामीण विकास का एक आधार बताया. श्री कश्यप ने जनप्रतिनिधियों को शिक्षा का महत्व समझाते हुए बताया कि सबसे जरूरी है शिक्षित होना. बाकी सारे क्षेत्र शिक्षा से जुड़े हुए हैं. https://www.facebook.com/hamarcg2016/posts/990793714352148

दंतेवाड़ा, सुकमा एवं बीजापुर जिलों के जनप्रतिनिधियों के बीच 'हमर छत्तीसगढ़' योजना की सांस्कृतिक संध्या में लोकसभा सांसद श्री दिनेश कश्यप मौजूद थे. कार्यक्रम के दौरान योजना की प्रतिक्रियाएं ली एवं मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह के अभिनव पहल की प्रशंसा की. उन्होंने इसे ग्रामीण विकास का एक आधार बताया. श्री कश्यप ने जनप्रतिनिधियों को शिक्षा का महत्व समझाते हुए बताया कि सबसे जरूरी है शिक्षित होना. बाकी सारे क्षेत्र शिक्षा से जुड़े हुए हैं. https://www.facebook.com/hamarcg2016/posts/990793714352148

15-16 जुलाई 2016, बीजापुर जिले के जनप्रतिनिधियों ने छत्तीसगढ़ साइंस सेंटर में अधिकारियों से छत्तीसगढ़ में मौजूद खनिज के बारे में जाना। इसके अलावा इस्पात बनाने की प्रक्रिया, वायु मंडलीय दाब का मापन एवं मापन की परम्परा मुख्य रूप से देखी।

15-16 जुलाई 2016, बीजापुर जिले के जनप्रतिनिधियों ने छत्तीसगढ़ साइंस सेंटर में अधिकारियों से छत्तीसगढ़ में मौजूद खनिज के बारे में जाना। इसके अलावा इस्पात बनाने की प्रक्रिया, वायु मंडलीय दाब का मापन एवं मापन की परम्परा मुख्य रूप से देखी।