Explore these ideas and more!

रहिमन विपदा हू भली, जो थोरे दिन होय। हित अनहित या जगत में, जान परत सब कोय।

रहिमन विपदा हू भली, जो थोरे दिन होय। हित अनहित या जगत में, जान परत सब कोय।

Rahim Das Ji के जीवन की तरह Rahim Ke Dohe भी काफी कुछ सिखाते हैं | यहाँ पर हम class 7,8 और 9 में आने वाले रहीम के दोहे अर्थ सहित पढ़ेंगे - Rahiman Dhaga Prem

Rahim Ke Dohe in Hindi

रहीम दास के १५ लोकप्रिय दोहे हिंदी अर्थ सहित Check more at http://www.reckontalk.com/rahim-das-dohe-hindi-meaning-full/

Top 20 Best Quotes From Indian Army Soldiers Saying

Tulsidas ke Dohe in Hindi : संत कबीर दास और रहीम दास के दोहों की तरह श्रीरामचरितमानस के रचयिता गोस्वामी तुलसीदास के दोहे भी मन की शांति के लिए अमृतवाणी का काम करते हैं

Short Biography of Goswami Tulasidas in Hindi Language गोस्वामी तुलसीदास का जीवन परिचय

रहीम दास जी के दोहे

रहीम दास जी के दोहे

समय पाय फल होत है, समय पाय झरी जात। सदा रहे नहिं एक सी, का रहीम पछितात।

समय पाय फल होत है, समय पाय झरी जात। सदा रहे नहिं एक सी, का रहीम पछितात।

रहीम के प्रसिद्ध दोहे | 50 Best Dohe of Rahim Das in hindi

रहीम के प्रसिद्ध दोहे | 50 Best Dohe of Rahim Das in hindi

खीरा सिर ते काटि के, मलियत लौंन लगाय। रहिमन करुए मुखन को, चाहिए यही सजाय।

खीरा सिर ते काटि के, मलियत लौंन लगाय। रहिमन करुए मुखन को, चाहिए यही सजाय।

जो रहीम उत्तम प्रकृति, का करी सकत कुसंग। चन्दन विष व्यापे नहीं, लिपटे रहत भुजंग।

जो रहीम उत्तम प्रकृति, का करी सकत कुसंग। चन्दन विष व्यापे नहीं, लिपटे रहत भुजंग।

वे रहीम नर धन्य हैं, पर उपकारी अंग। बांटन वारे को लगे, ज्यों मेंहदी को रंग।

वे रहीम नर धन्य हैं, पर उपकारी अंग। बांटन वारे को लगे, ज्यों मेंहदी को रंग।

रहिमन देखि बड़ेन को, लघु न दीजिए डारि. जहां काम आवे सुई, कहा करे तरवारि.

रहिमन देखि बड़ेन को, लघु न दीजिए डारि. जहां काम आवे सुई, कहा करे तरवारि.

रहीम दास के अनमोल दोहे जो जीवन को बदल दे ! ~ Nayichetana.com

रहीम दास के अनमोल दोहे जो जीवन को बदल दे ! ~ Nayichetana.com

Pinterest
Search